Saturday , Nov 25 2017

लोकप्रिय ख़बरें

बंगाल के रसगुल्ले को मिला भौगोलिक पहचान का टैग, ओडिशा पराजित

Sanjeevni Today
14, Nov 2017, 11:18

Lucknow, a rascal, marriage, dispute, procession लखनऊ, एक रसगुल्ले, शादी, विवाद, बारात बता दे कि रसगुल्ले के अविष्कार को लेकर दोनों राज्य सालों से लड़ रहे थे, एक तरफ ओडिशा का कहना है कि सबसे पहले रसगुल्ला ओडिशा में बना जबकि पश्चिम बंगाल इसका अविष्कारक होने का दावा पेश कर रहा था। सालों तक चली जंग में अपना पक्ष पुख्ता करने के लिए दोनों राज्यों ने स्पेशल कमेटियां तक बिठा दी थी। दोनों ही पक्षों ने खुद को रसगुल्ले का पहला और निर्माता बताने के लिए काफी कोशिशें की और अंत में बंगाल की विजय हुई। यह भी पढ़े: गोरखपुर में अलगटपुर बांध टूटने से 4 जिलों में घुसा पानी देखिए ओडिशा में पहाल नामक स्थान के रसगुल्ले काफी फेमस है और यहां के रसगुल्लों पर जीआई पंजीकरण हासिल करने के लिए ओडिशा सरकार ने अनुमति मांगी थी। यहां के रसगुल्ले बंगाल भी जाते हैं। सांस्कृतिक इतिहासकार असित मोहंती के अनुसार, भगवान जगन्नाथ द्वारा मां लक्ष्मी को रथयात्रा के समापन के समय रसगुल्ला भेंट करने की परंपरा 300 साल पुरानी है, बंगाल तो खुद ही मान रहा है कि उसका रसगुल्ला 150 साल पुराना है। NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे ! जयपुर में प्लॉट ले मात्र लाख में: 09314188188

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved