Thursday , Nov 23 2017

लोकप्रिय ख़बरें

भाजपा पर पास कार्यकर्ता की पिटाई का आरोप

Rajasthan Patrika
14, Nov 2017, 05:30

सूरत।वराछा क्षेत्र में एक पास कार्यकर्ता ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर उसके साथ मारपीट कर घायल करने का आरोप लगाया है। वराछा पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस के मुताबिक वराछा दिव्य वसुंधरा सोसायटी निवासी कुणाल पुत्र वीनू भाई सरदारा (20) शनिवार को अपने मित्र के साथ वरियाव कॉलेज जा रहा था। सुबह साढ़े दस बजे अश्विनी कुमार रोड पर प्रमुख स्वामी ब्रिज के निकट तीन दुपहिया वाहनों पर आए छह अज्ञात युवकों ने उसे रोका। उन्होंने कुणाल से कहा कि तुझे आंदोलन और विरोध करने का बहुत शौक है ना आज तेरा यह शौक पूरा कर देते हैं। फिर उन्होंने डंडों से उसे बुरी तरह से पीटा और वहां से फरार हो गए। उन्होंने हेलमेट पहन रखे थे तथा उनके वाहनों पर कमल के निशान बने हुए थे। पुलिस ने कुणाल की प्राथमिकी के आधार पर छह अज्ञात युवकों के खिलाफ मारपीट एवं उपद्रव मचाने के संबंध में मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। हालांकि किसी की पहचान नहीं की गई है। उल्लेखनीय है कि पाटीदार अनामत आन्दोलन समिति (पास) और सत्ताधारी भाजपा के बीच वराछा क्षेत्र में लंबे समय से तनातनी चल रही है। आरक्षण की मांग कर रहे पास कार्यकर्ता क्षेत्र में भाजपा के सभी कार्यक्रमों में अडंगा लगा रहे हंै। जहां कार्यक्रम होता है वहां विरोध जताने पहुंच जाते हैं। चुनावी आचार संहिता लागू होने के बाद तो यह तनातनी और तेज हो गई है। शुक्रवार को भी रेणुका भवन क्षेत्र में प्रचार करने गए भाजपा के विधायकों, पार्षदों व कार्यकर्ताओं के समक्ष नारेबाजी कर पास कार्यकर्ताओं ने विरोध जताया था। दोनों पक्षों के बीच वाकयुद्ध भी हुआ था। बाद में पुलिस ने दखल कर कुछ पास कार्यकर्ताओं को डिटेन किया था। जिसके चलते थाने का भी घेराव किया गया था। कार्यकर्ताओं को छोडऩे के बाद हालात सामान्य हुए थे। कार्रवाई नहीं करने पर की नारेबाजी घटना के बाद कुछ पास कार्यकर्ता पीडि़त को एक व्हीलचेयर पर बिठा कर वराछा थाने ले गए, लेकिन पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ सीधे मामला दर्ज कर कार्रवाई करने से मना कर दिया। इस पर दो दर्जन से अधिक पास कार्यकर्ता वहां पर एकत्र हो गए। उन्होंने थाने के बाहर नारेबाजी की और विरोध जताया। तब पुलिस भी हरकत में आई और प्राथमिकी दर्ज की गई। कानाणी के भतीजे पर हमले का आरोप पास कार्यकर्ताओं ने इस घटना को लेकर भाजपा के वराछा रोड क्षेत्र के विधायक कुमार कानाणी के भतीजे हितेश कानाणी पर हमले का आरोप लगाया है। उनका कहना हैं कि कुछ दिन पूर्व पीडि़त कुणाल ने सोशल मीडिया पर कमेंट किया था। जिसको लेकर हितेश के साथ उसका विवाद भी हुआ था। उसी की रंजिश रख कर उसने अपने कार्यकर्ता मित्रों के जरिए हमला करवाया है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved