Wednesday , Nov 22 2017

लोकप्रिय ख़बरें

योगी की मंत्री ने कहा, सरकार के पास अपना कोई एजेंडा नहीं

Rajasthan Patrika
14, Nov 2017, 06:00

फर्रुखाबाद. नगर निकाय चुनाव में कायमगंज नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी प्रत्याशी मिथलेश अग्रवाल के समर्थन में मंगलवार को हुई बैठक में भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने के लिए आयीं प्रदेश सरकारी की खनन व आबकारी राज्य मंत्री अर्चना पांडेय ने कहा कि भाजपा में गुटबाजी पूरी तरह समाप्त हो चुकी है। इस नगर निकाय चुनाव में गुटबाजी से दूर रहकर चुनाव लड़ा जायेगा। प्रदेश का विकास भाजपा ही कर सकती है कायमगंज नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी प्रत्याशी मिथलेश अग्रवाल ने कहा कि कायमगंज को आदर्श नगर पालिका बनने के बाद फर्रुखाबाद को भी एक विकसित नगर बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि गंगा में जाने वाले नाले और उसके प्रदूषण को दूर कराने का राज्य शासन से प्रयास किया जाएगा। वहीं, मंत्री अर्चना पांडेय ने कहा कि सऩ् 1947 से अभी तक टाउन हाल पर कमल नही खिला। इसका कारण है की पार्टी में एकता नही थी, लेकिन अब सभी को एक जुट होकर चुनाव लडऩा ह, लेकिन इसके साथ ही साथ कार्यकर्ताओं के सम्मान को भी ध्यान में रखा जाये। कांग्रेस पर कसा तंज मुख्य अतिथि के रूप में आयीं राज्य मंत्री अर्चना पाण्डेय ने कहा कि यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार पर उन्होंने कहा की उनका अपना कोई एजेंडा नहीं है। वह जनता की समस्याओं को ही अपना एजेंडा बनाते हैं। उन्होंने विरोधी दलों के साथ ही साथ कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा की आजादी के 70 साल बाद भी आज देश के पीएम नरेंद्र मोदी को शौच के लिए लोगों को जागरूक करना पड़ रहा है। कुछ लोग अपना व्यापार चलाने के लिए कमल का फूल लेकर घूम रहे हैं राज्य मंत्री अर्चना पाण्डेय ने कहा कि भाजपा में वो दिन चले गये, जब गुटबाजी होती थी। आज बीजेपी गुटबाजी छोड़ एकजुट हो चुकी है। यही एकजुटता हमे निकाय चुनाव में जीत दिलाएगी। कुछ लोगों पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि कुछ लोग अपना व्यापार सुरक्षित करने के लिये कमल निशान लेकर घूम रहे हैं। उन्होंने कहा की नगर निकाय चुनाव में मिथलेश अग्रवाल फर्रुखाबाद के नौजवानों व महिलाओ को कुछ देने के लिये और विकास का पहिया तेज करने के लिये आयी हंै। उन्होंने इतिहास को पलट कर कहा की आज बीजेपी की जय-जय कार हो रही है, लेकिन हमे यह याद रखने की जरूरत है की इस भाजपा की दीवारों के नीचे वह नींव भी है, जिसमे ना जाने कितने ब्रह्मदत्त द्विवेदी व रामप्रकाश त्रिपाठी जैसे लोगंो का खून व पसीना दफन है।
loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved