Wednesday , Nov 22 2017

लोकप्रिय ख़बरें

टूटी सडक़ों पर उड़ती धूल दे रही है बीमारियां, ‘विकास’ से होने लगे सब परेशान

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 02:30

टोंक. इन दिनों विकास के नाम पर शहर में पेयजल लाइन डालने का कार्य किया जा रहा है, लेकिन इस कार्य में इतनी लापरवाही बरती जा रही है कि लोग अब इस विकास; से परेशान होने लगे हैं। टूटी सडक़ों पर उड़ती धूल बीमारियां दे रही हैं। सुबह-शाम वाहनों के आवागमन से लोग सांस भी नहीं ले पा रहे हैं। दिन में कई बार ऐसा दृश्य हो जाता है मानो आंधी चल रही हो। ये आलम शहर के कई इलाकों में है। कारण एक ही है कि पाइप लाइन डालने के लिए सडक़ों को खोदकर छोडऩे के बाद सुध ही नहीं ली जा रही है। आए दिन गिरते हैं लोगमोतीबाग मोड़ से धन्नातलाई की ओर सीसी सडक़ को इतनी गहराई में खोद दिया गया कि आए दिन वाहन फंस जाते हैं और घंटों जाम की स्थिति बन जाती है। यहां मंगलवार को भी एक बाइक चालक गिरकर घायल हो गया। इसके अलावा ऑटो रिक्शा कई बार पलटने से हैं। दिनभर रहता है धूल का गुबारमोतीबाग मोड़ से धन्नातलाई, कबाड़ी बाजार तक जलदाय विभाग ने पाइप लाइन डालने के लिए सडक़ को पूरी तरह से खोद दिया। यहां मरम्मत तो दूर खुदाई से निकले बड़े पत्थरों तक को नहीं हटाया गया। पाइप लाइन डालने के बाद मिट्टी से दबा दिया गया। अब ये मिट्टी वाहनों के साथ गुबार का रूप ले लेती है। ये गुबार सुबह से शाम तक बना रहता है। कई बार लोगों ने इसकी शिकायत प्रशासन से की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। बदल लिए रास्तेधन्नातलाई क्षेत्र के समीप गलियों में रहने वाले लोगों ने इस मार्ग से आना-जाना बंद कर दिया है। इसका कारण उड़ती धूल तथा गड्ढे हैं। घंटाघर, सुभाष बाजार तथा पांचबत्ती से आने वाले को गलियों को सहारा लेना पड़ता है। वे धन्नातलाई के लिए बड़ा कुआं व मोतीबाग होकर मुख्य मार्ग से आने-जाने से बचने लगे हैं। अन्य गलियों से घर तक पहुंच रहे हैं। तीन महीने से हैं हालातशहर के विभिन्न इलाकों में लाइन डालने का कार्य करीब डेढ़ साल पहले शुरू किया गया था। इसमें कई स्थानों पर तो मरम्मत कर दी, लेकिन कई जगह आज भी मरम्मत को तरस रही है। मोतीबाग से धन्नातलाई के आगे तीन महीने पहले सडक़ खोदकर पाइन लाइन डाली गई थी। इसके बाद उबड़-खाबड़ रास्तों की अब तक मरम्मत नहीं कराई गई। कर दिया काम बंदआरयूआईडीपी ने भी शहर में सीवरेज तथा पानी की पाइप लाइन डालने का कार्य कर रही है, लेकिन गत दिनों सडक़ों की मरम्मत समय नहीं होने पर उन्होंने कार्य बंद कर दिया। उन दिनों लोगों की काफी शिकायतों पर जनप्रतिनिधियों से आरयूआईडीपी से कार्य बंद करा दिया, लेकिन सरकारी संस्था की इस लापरवाही पर नजरअंदाज किया जा रहा है। मरम्मत नहीं होने की जानकारी नहीं है। ऐसी लापरवाही बरती गई है तो ठेकेदार से बात कर जल्द ही मरम्मत कार्य कराया जाएगा।राजेश गोयल, अधिशासी अभियंता, जलदाय विभाग टोंक

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved