Thursday , Nov 23 2017

लोकप्रिय ख़बरें

जिलाकारागार में कैदी ने खाया जहर, जेल प्रशासन पर लगाया यह आरोप

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 05:00

मऊ. जिलाकारागार में उस समय हड़कम्पं और अफरा-तफरी मच गई जब छह महीने से बन्द एक कैदी की तबीयत अचानक खराब हो गई। कैदी के हालत को देखते हुए कारागार अधीक्षक ने कैदी को इलाज के लिए तुरन्त जिलाचिकित्सालय में भर्ती करा दिया है। जहां चिकित्सकों के गहन परिक्षण के बाद पता चला कि कैदी ने जहर खाया हुआ है। जिससे उसकी हालत खराब हो गई है । कैदी के जहर खाने से जेल प्रशासन के ऊपर सवालिया निशान खड़े करते हैं कि इतनी सुरक्षा व्यवस्था के बाद भी इस तरह से सनसनी खेज सामने आते हैं। बतादें कि जिलाकारागार में आज उस समय हडकंप और अफर- तफरी मच गया जब छह महीने से बन्द एक कैदी तबीयत अचानक खराब हो गयी, कैदी के हालत को देखते हुए कारागार अधीक्षक ने कैदी के इलाज के लिए तुरन्त जिलाचिकित्सालय में भर्ती करा दिया है जहां चिकित्सकों के गहन परिक्षण के बाद पता चला कि कैदी ने जहर खाया हुआ है। जिसकी उसकी हालत खराब हो गई है। कैदी के जहर खाने से जेल प्रशासन के ऊपर सवालिया निशान खड़ा करता है। कैदी ने बताया कि वह जिले के मुहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र के देवरिया बुजुर्ग गांव का रहने वाला है और पारिवारिक दिक्कतों से परेशान चल रहा था। छह महीने पहले उसको 354 के तहत के जेल हुई थी और उसको कुछ परिवारिक दिक्कते थी जिसकी वजह से उसने यह कदम उठाया । हालांकि पूछने पर कि जेल के अन्दर जहर कैसे पहुंचा तो उसने बताया कि जेल के अन्दर खेती होती है और फसलो में रोग लगने पर कीटनाशक दवाएं जाती है जिसको उसने खा लिया । जिससे उसकी हालत ऐसी हुई है । जेल से जिला चिकित्सालय में इलाज के लिए लेकर पहुंचे जिलाकारागार के बन्दी रक्षक हरेन्द्र गुप्ता बताते है कि जैसे वह डियूटी पर पहुंचे तो पता चला कि एक बन्दी रक्षक की हालत गम्भीर है। उसको तुरन्त जिलाचिकित्सालय में इलाज के लिए लेकर जाना है जिसको लेकर हम यहां पर आए हुए है । कैदी का इलाज करने वाले जिला चिकित्सालय के डाक्टर का कहना है कि कैदी की हालत में सुधार है । इलाज चल रहा है और और उसने कीटनाशक खाया हुआ है ।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved