Saturday , Nov 25 2017

लोकप्रिय ख़बरें

सरेआम शहर के बीचों बीच युवक ने की ऐसी नीच हरकत, पहुंचाया गया हवालात

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 05:00

कोरबा . एक युवक ने पहले तो कॉलेज की छात्रा को अपने साथ जबरन बाइक पर बैठा कर ओपन थियेटर ले आया। फिर किसी बात पर ब्लेड से युवती के कपड़े फाड़ डाले। युवक की गुंडागर्दी यहीं नहीं रूकी। छात्रा पर ताबड़तोड़ थप्पड़ की बौछार कर दी। छात्रा रोती रही। लेकिन आसपास खड़े लोग तमाशबीन बने रहे। डरी-सहमी छात्रा परिजनों के साथ कोतवाली पहुंची। छात्रा की रिपोर्ट पर युवक के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। कोतवाली क्षेत्र के सीतामणी में रहने वाली युवती जो अग्रसेन कॉलेज में बीकॉम फाइनल की छात्रा है। मंगलवार की सुबह लगभग साढ़े आठ बजे करन लहरे नाम का युवक छात्रा को अपने साथ जबरन बाइक पर बैठाकर घंटाघर स्थित ओपन थियेटर पहुंचा। यहां पर किसी बात पर युवक छात्रा के साथ विवाद करने लगा। छात्रा ने जब वापस कॉलेज जाने की बात कही। तो युवक ने ब्लेड निकाला और छात्रा के कपड़ों पर ब्लेड मार कर फाड़े। विरोध करने पर छात्रा को थप्पड़ भी मारे। छात्रा चिल्लायी तो युवक ने छात्रा के कुर्ती के निचले भाग को फाड़ दिया। युवक ने छात्रा को धमकी दी कि वह किसी और से बात करेगी तो तेरे को जिंदा जला देगा। ये वाक्या शहर के सबसे प्राइम लोकेशन घंटाघर चौक स्थित ओपन थियेटर में सुबह हुआ। इस दौरान आने जाने वाले लोग तमाशबीन बने रहे। लेकिन किसी ने भी छात्रा की मदद नहीं की। युवक के गुंदागर्दी को नहीं रोकी। छात्रा ने एक राहगीर से मोबाइल फोन मांग कर अपने परिजनों को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ 323, 506 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। खुलेआम गुंडागर्दी- बीच शहर में इस तरह युवती पर ब्लेड से हमला कर उसके कपड़े फाडऩे का मामला पहली बार आया है। घंटाघर जैसी जगह पर सनकी युवक को पुलिस का कोई खौफ नहीं है। कॉलेज के आसपास इस तरह के मनचलों से छात्राएं रोजाना छींटाकशी का शिकार हो रही है। पत्रिका व्यूजेल के सीखचों में हो आरोपी- ऊर्जाधानी में घंटाघर चौक ओपन थियेटर में सरेआम एक गल्र्स कालेज की छात्रा के साथ एक युवक द्वारा की मारपीट की घटना पुलिस तंत्र के लिए आंख खोलने वाली है। युवक ने हदें पार करते हुए मानवता को तार-तार कर दिया। जाहिर सी बात है कि अगर समय-समय होने वाली अपराधिक घटनाओं पर पुलिस सख्ती कर रही होती तो किसी बहशी युवक की एक युवती के साथ ही ऐसी हरकत करने की हिम्मत नहीं होती। अभी वक्त है पुलिस अपने रुख में बदलाव लाए। आरोपी युवक को गिरफ्तार कर न केवल उसे जेल भेजे बल्कि ऐसी कठोर सजा भी दिलाए कि भविष्य में फिर किसी बेटी के साथ ऐसी घटना न हो।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved