Saturday , Nov 25 2017

लोकप्रिय ख़बरें

शादी के कुछ समय बाद ही लुटेरी दुल्हन घर से ले भागी जेवरात-नकदी

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 05:00

जयपुर। प्रतापनगर थाना इलाके में एक लुटेरी दुल्हन शादी के कुछ समय बाद ही घर से जेवरात व नकदी लेकर भाग निकली। पीडि़त को घटना का पता काम से घर लौटने पर लगा। इस पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर हुलिए के आधार पर महिला की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार सुखपुरिया निवासी फारूख ने इस साल जनवरी में कोर्ट में हिंदू लड़की नीलम से शादी की थी। तीन नवंबर को नीलम घर से सोने-चांदी के जेवरात व नकदी लेकर भाग निकली। युवती अपने बच्चों को पहले छोड़कर गई थी, लेकिन बाद में मौका पाकर उन्हें भी अपने साथ ले गई। घटना के समय पीडि़त काम पर गया हुआ था। पीडि़त ने नीलम, उसके पिता मक्खन लाल, सुनील और प्रमोद के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है। एएसआई सुरेंद्र ने बताया आरोपित युवती व पीडि़त पिछले साल एक ही कंपनी में काम करते थे। युवती पहले से शादी शुदा थी और उसके तीन बच्चे भी हैं। आरोपियों ने युवती को विधवा बताकर उसकी फारूख से शादी करवाई थी। एक दिन पीडि़त को युवती के मोबाइल पर आए कॉल के बाद शक हुआ तो वह उसके फोन को अपने साथ ले गया और उस नंबरों पर आए कॉल पर वापस से फोन किया तो आरोपितों ने उसे ठगे जाने की बात कहीं। पीडि़त जब तक घर पहुंचता महिला घर से सामान समेट कर जांच चुकी थी। बच्चों को भी महिला अपने साथ ले गई थी। मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश की जा रही है। पीडि़त से आरोपितों की तलाश के लिए शादी की तस्वीरें भी ली गई हैं। एक आैर घटना में मुख्यमंत्री आवास योजना में फ्लैट दिलाने के नाम पर एक महिला से साठ हजार रुपए से अधिक की राशि ठगने का मामला सामने आया है। इस संबंध में पीडि़ता ने भांकरोटा थाने में मामला दर्ज करवाया है। इससे पूर्व भी मुख्यमंत्री आवास योजना के नाम पर ठगी के आधा दर्जन से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। सरकारी योजनाओं के नाम पर ठगी करने के मामलों को रोकने को लेकर न सरकार गंभीर नजर आ रही है न ही पुलिस प्रशासन। पुलिस के अनुसार शिवानंदपुरी निवासी लीछमा देवी ने मामला दर्ज करवाया कि बाबू लाल सैनी ने उसे मुख्यमंत्री आवास योजना में फ्लैट दिलाने के नाम पर झांसा दिया और दो बार में उससे साठ हजार रुपए ले लिए। फ्लैट दिलाने के बाद उसकी बाकी राशि लेने की बात कहीं। रुपए लेने के बाद आरोपित ने उसे फ्लैट नहीं दिलाया। आरोपित कुछ दिन तक बहाना बनाता रहा और फिर उसने अपना मोबाइल बंद कर लिया। इससे परेशान होकर पीडि़ता ने पुलिस की शरण ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved