Tuesday , Nov 21 2017

लोकप्रिय ख़बरें

इस भारतीय ने खोज निकाला नया देश, बन गया वहां का राजा

Live India
15, Nov 2017, 05:31

मध्य प्रदेश का रहने वाला सुयश दीक्षित अपने दफ्तर के काम से मिस्त्र गया था। सुयश ने यहां जो काम किया उसकी वजह से अब वो महाराज सुयश बन चुका है। दरअसल मिस्त्र और सूडान के बीच में करीब 800 स्क्वॉयर मील की एक जगह ऐसी है, जो किसी देश के भीतर नहीं आता। इस जमीन पर न तो मिस्त्र दावा करता है और न ही सूडान। इस लावारिस जगह के बारे में सुयश ने पहले से पढ़ रखा था। उसने मौके का फायदा उठाया और वहां जाकर झंडा फहराकर खुद को वहां का राजा घोषित कर दिया। इस जगह का नाम बीर तवील है, जो पूरी तरह से रेगिस्तान और बंजर का इलाका है। ये एक नोमेंस लैंड है। जहां जाकर सुयश ने अपना झंडा गाड़ा, जमीन में बीज रोपा और खुद को वहां का राजा घोषित कर दिया। प्लानिंग के साथ किया काम :
सुयश ने ये पूरा काम प्लानिंग के तहत किया। आंतकियों के ठिकानों से घिरे इस जगह पर जाने के लिए सुयश को पुलिस की अनुमति लेनी पड़ी। उनकी शर्तों को मानना पड़ा और अपने जान पर खेलकर ये काम करना पड़ा। आंतकियों के ठिकानों की वजह से इस इलाके में पुलिस को देखते ही गोली मारने की इजाजत मिली हुई है। ऐसे में सुयश ने अपनी जान को जोखिम में डालकर ये काम किया और करीब 319 किलोमीटर की यात्रा करके ये काम किया। इसे करने के लिए उसने पूरी प्लानिंग की और देश घोषित करने के लिए सभी आवश्यक नियमों का अध्ययन किया। नागरिकता के लिए आवेदन : सुयश ने अपने इस देश की वेबसाइट भी बना रखी है। आप किंगडम ऑफ दीक्षित के बारे में जानने के लिए पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते है। इतना ही नहीं आप इस देश के लिए नागरिकता के लिए भी आवेदन कर सकते है। अब तक 5 लोगों ने इस देश की नागरिकता हासिल करने के लिए आवेदन किया है। सुयश अपने नए देश के लिए नियम और कानूनों को बनाने में जुटे हैं। लोग उन्हें सुझाव दे रहे हैं। आप भी इस देश की नागरिकता इस वेबसाइट पर डाकर ले सकते है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved