Tuesday , Nov 21 2017

लोकप्रिय ख़बरें

Indian Railway में नौकरी करता था ये शातिर युवक, सरकार के खाते से उड़ाएं रुपए, अब है सलाखों के पीछे

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 06:00

जबलपुर। रेलवे के एक विभाग में एक शातिर कर्मचारी वर्षों से काम कर रहा था। चुपचाप अपना काम करने वाले इस कर्मचारी की गतिविधियों पर कभी किसी को संदेह नहीं हुआ। युवक के शातिर दिमाग की कारस्तानी उस वक्त उजागर हुई जब रेलवे के एक बैंक अकाउंट से अचानक रुपए गायब हो गए। मामला पश्चिम मध्य रेल के जबलपुर डिवीजन का है। जालसाजी करके रेलवे के अकाउंट से रुपए निकालने के मामले में आरपीएफ ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है। चेक निकाला, जाली हस्ताक्षर किया रेलवे के सरकारी खाते से अचानक गायब हुई रकम का यह अपनी तरह का अनोखा मामला है। सूत्रों के अनुसार रेलवे के एक विभाग में आलमारी में बैंक खाते और चेक बुक रखी थी। इस आलमारी से रखे चेक बुक से एक दिन अचानक तीन चेक गायब हो गए। इन चेक पर जाली हस्ताक्षर बनाकर बैंक खाते से रकम की निकासी की गई। इंजीनियरिंग शाखा का इम्प्रेस्ट खाता आरपीएफ के अनुसार रेलवे के इंजीनियरिंग शाखा में वित्तीय गड़बड़ी का यह मामला सामने आया है। जहां, आलमारी में रखे इम्प्रेस्ट खाते के तीन चेक गायब हो गए। इसमें एक चेक पर हस्ताक्षर करके बैंक खाते से रकम निकाली गई है। गायब दो चेक से फिलहाल कोई ट्रांजेक्शन नहीं हुआ है। एसबीआई की पड़ताल में सुराग इंजीनियरिंग शाखा से चेक चोरी होने के बाद आरपीएफ मामले को लेकर एसबीआई की सिविल लाइंस ब्रांच पहुंची। एसबीआई ने खाते को खंगाला तो सामने आया कि उसमें एक चेक से दो लाख रुपए की रकम निकाली गई है। पड़ताल करने पर पता चला यह रकम उस चेक से निकाली गई जो आलमारी में रखी चेकबुक से गायब हुए है। आरपीएफ ने जांच के बाद पकड़ा आरपीएफ पोस्ट प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि जबलपुर रेल मंडल कार्यालय की इंजीनियरिंग शाखा की शिकायत पर चेक गायब होने की जांच की गई। पूछताछ में पता चला कि उस दिन ऑफिस में सबसे पहले प्यून सुमित कुमार साफ-सफाई के लिये आया था। संदेह होने पर आरपीएफ ने सुमित से सख्ती से पूछताछ की। इसमें सुमित ने चेक चुराने की बात स्वीकार कर ली। आरपीएफ ने आरोपी सुमित के निवास कृष्णा होम्स में भी जांच पड़तताल की पर वहां कुछ नहीं मिला।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved