Saturday , Nov 25 2017

लोकप्रिय ख़बरें

भारतीय टीम के बाद क्या अब रैना चेन्नई सुपरकिंग्स से भी बाहर हो जाएंगे

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 07:30

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग अप्रैल 2018 में शुरू होगा, दो साल का बैन झेलने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स अगले साल वापसी के लिए तैयार है। आईपीएल में खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिए आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक होनी है। यह बैठक 21 नवंबर को होगी और अगले आइपीएल के लिए खिलाड़ियों को रिटेन करने की पॉलिसी की घोषणा करेगी। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि हर टीम को तीन खिलाड़ियों को रिटेन करने की अनुमति दी जा सकती है। तीन खिलाड़ियों में से दो भारतीय और एक विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं। रैना को बाहर का रास्ता दो साल के प्रतिबंध के बाद राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल में वापसी कर रही हैं। ऐसे में दोनों टीमों की निगाहें अपने पुराने खिलाड़ियों को फिर से टीम में शामिल करने पर होंगी। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल की सबसे लोकप्रिय टीमों में से एक रही है। पहले आईपीएल से ले कर आईपीएल-8 में बैन होने तक धौनी ने ही इस टीम की कमान संभाली है और आर अश्विन, रविंद्र जडेजा और सुरेश रैना उनके अहम खिलाड़ी रहे हैं। धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स दो बार आईपीएल का ख़िताब जीत चुकी है। ऐसे में चेन्नई सुपरकिंग्स ने धौनी और ऑफ स्पिनर अश्विन को टीम में बनाए रखने का फैसला किया है, जबकि विस्फोटक बल्लेबाज सुरेश रैना को बाहर कर दिया है। आईपीएल 2016 और 2017 में रैना गुजरात लायंस के कप्तान रह चुके है। अश्विन को ज्यादा तरजीह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए रैना खेल चुके हैं और वो टीम के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज थे। रैना ने पहले आठ संस्करण में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए खूब रन बनाए और चेन्नई में उनके प्रशंसकों की कमी नहीं है। रैना आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी हैं। रिपोर्ट के मुताबिक ऐसा लग रहा है कि टीम इस बार लोकल खिलाड़ी आर. अश्विन को रैना की जगह ज्यादा तरजीह दे रही है। सायद इसकी वजह आश्विन का लोकल बॉय होना है एक वजह यह भी हो सकती है कि रैना काफी समय से ना सिर्फ भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं बल्कि वह घरेलू स्तर पर भी अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे है। नहीं खेलेंगी गुजरात और पुणे आईपीएल के 11वें सीजन में गुजरात लायंस और राइजिंग पुणे सुपर जाइंट खेलती नजर नहीं आएगी। ऐसे में चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान की टीम गुजरात और पुणे के खिलाड़ियों को अपनी टीम में चुन सकती है। इसके अलावा वर्ष 2017 में आइपीएल में खेलने वाली टीम अपने तीन खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है। आईपीएल के 11वें संस्करण में तकरीबन 500 से ज्यादा खिलाड़ियों की बोली लगनी है लेकिन टीम में आइकॉन खिलाड़ी बने रहने के लिए गवर्निंग काउंसिल ने 3 खिलाड़ियों को रिटेन करने का विचार किया है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved