Tuesday , Nov 21 2017

लोकप्रिय ख़बरें

संप्रेक्षण गृह से भागा बाल अपचारी तीन दिन बाद घर के निकट जंगल में मिला

Rajasthan Patrika
15, Nov 2017, 08:30

रायपुर मारवाड़ . पाली के संप्रेक्षण गृह से तीन दिन पहले फरार हुए बाल अपचारी को रायपुर पुलिस ने बुधवार को कालब कलां की पहाडिय़ों से संरक्षण में लिया तथा पाली संप्रेक्षण गृह को सौंपा।रायपुर थानाप्रभारी राजेन्द्रसिंह चारण ने बताया कि 30 मई 2017 को पिपलिया बाडिय़ा निवासी भंवरसिंह रावत के पुत्र रमेश सिंह (14) व विजेन्द्रसिंह (10) जंगल में मवेशी चरा रहे थे। जिसकी किसी ने कूंट से वार कर हत्या कर दी थी। मामले में थाना क्षेत्र के ही एक बाल अपराधी को गिरफ्तार किया था। जिसने दोनों की हत्या करना स्वीकार किया था। जिस पर उसे संरक्षण में लेकर न्यायालय के आदेश पर पाली स्थित संप्रेक्षण गृह भेजा था। 12 नवम्बर की रात को वह संप्रेक्षण गृह से फरार हो गया था। पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव के निर्देश पर जिले भर में नाकाबंदी करवाई गई तथा रायपुर थाना क्षेत्र स्थित उसके घर के निकट भी निगरानी रखी गई। जिस पर बाल अपचारी को मंगलवार को उसके घर के निकट कालब कलां के जंगल से संरक्षण में लिया तथा संप्रेक्षण गृह पाली को सौंपा। दो माह पहले भी हुआ था फरार बाल अपचारी दो माह पहले भी पाली संप्रेक्षण गृह से फरार हो गया था। जिसे पुलिस ने रेलवे लाइन के निकट से संरक्षण लेकर वापस संप्रेक्षण गृह में सौंपा था। पहले भी कई बार फरार हो चुके हैं बाल अपचारी संप्रेक्षण गृह में चौकीदार सहित अन्य स्टाफ लगा हुआ है। उसके बाद भी संप्रेक्षण गृह से बाल अपचारियों के फरार होने की घटना यहां कार्यरत कार्मिकों की कार्यशैली पर प्रश्न चिन्ह लगा रही है। धोखाधड़ी का मामला दर्ज सोजत. एक व्यक्ति ने एक अन्य के विरूद्ध धोखाधड़ी व अमानत व खयानत करने का मामला सोजत पुलिस थाने में दर्ज करवाया है। पुलिस ने बताया कि रिद्धी सिद्धी इन्टरप्राईजेज सोजत के नवरतन अग्रवाल पुत्र भंवरलाल ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि भंडुरी बोम्बे महाराष्ट्र निवासी अश्विन हकाकी निर्मल कॉपरेशन द्वारा एक लाख रुपए का मेहन्दी का माल नहीं भेजकर धोखाधड़ी कर अमानत में खयानत की। पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved