Tuesday , Aug 22 2017

लोकप्रिय ख़बरें

कौमी एकता के लिये निकाला अमन चैन मार्च

Rajasthan Patrika
13, Aug 2017, 03:00

फर्रुखाबाद. जमीयत उलेमा हिन्द के सौजन्य से फतेहगढ़ में अमन-चैन मार्च निकाला गया। मार्च में तिरंगे के साथ ही साथ संगठन के झंडे लिये लोगों ने अमन-चैन का पैगाम दिया। इमामे शहर मुफ़्ती मुअज्जम अली ने फतेहगढ़ के जेएनबी तिराहे पर स्थित अम्बेडकर प्रतिमा से मार्च को रवाना किया। इसके बाद सभी नारेबाजी करते हुये कलेक्ट्रेट पंहुचे। वहां भी कौमी एकता और अमन-चैन को लेकर वक्ताओं ने अपने विचार रखे। जुलुस का संचालन मौलाना अब्दुल रब कासमी ने किया। मार्च में हिन्दुस्तान जिंदाबाद के नारे लगे । कलेक्ट्रेट पंहुचकर मार्च सभा में बदल गया। योगी सरकार ने प्रदेश के सभी मदरसों में इस बार स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में होने वाले कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी कराने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इस पर मुफ़्ती जफर अहमद कासमी ने बताया कि देश में दोनों धर्मों को बांटने का काम हो रहा है। इस पर यह अमन यात्रा निकली गयी है। वन्दे मातरम को संविधान में गाना नहीं बताया गया है।योगी सरकार इस पर राजनीति कर रही है। अमन चैन के लिए निकाले गए जुलूस में लोगों ने योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया क्योंकि कुछ लोग मानते है कि योगी ने सभी मदरसों में तिरंगा फहराने के आदेश का विरोध करते हुए हिन्दू-मुस्लिमों को बांटने का काम कियाहै, लेकिन देश में जो लोग अमन चैन की जो दुआ करते हैं वह लोग जाति धर्म की बात नहीं करते है। फिर भी जिले के सभी मुस्लिम समाज के लोग अपने धर्म के झंडे के साथ तिरंगा भी लेकर चल रहे थे। जब अमन यात्रा में तिरंगा लेकर जुलूस लेकर चल सकते हैं तो मदरसे में फहराने का विरोध क्यों है। क्या सभी अपनी अपनी रोटियां सेक रहे हैं, लेकिन जमातयत उलेमा के अध्यक्ष ने कहा कि हम गंगा जमुनी तहज़ीब को अपने जिले में बरकरार रखेंगे। चाहे कोई भी पार्टी हो और किसी का शासन हो। हम लोग अपनी इंसानियत नहीं भूलेंगे। सभी धर्मों के लोगों को अपने साथ लेकर चलेंगे।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved