Tuesday , Aug 22 2017

लोकप्रिय ख़बरें

आतंकी हमले की आशंका में बॉर्डर पर ऑपरेशन अलर्ट, जवानों की संख्या बढ़ाई

Rajasthan Patrika
13, Aug 2017, 04:30

श्रीगंगानगरघड़साना। स्वाधीनता दिवस और जन्माष्टमी पर्व पर आतंकी हमले को अंजाम देने के लिए सीमा पार से आतंककारियों के भारत में घुसपैठ की आशंका के चलते राजस्थान फ्रंटियर में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा को सील कर दिया गया है। सीमा सुरक्षा बल ने ऑपरेशन अलर्ट के तहत सीमा चौकियों पर जवानों की संख्या बढ़ा दी है और सीमा क्षेत्र में रात्रि के समय नाकाबंदी की जा रही है। ऑपरेशन अलर्ट उन सभी राज्यों में चल रहा है जिनकी पश्चिमी सीमा पाकिस्तान से लगती है । राजस्थान के सीमावर्ती श्रीगंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर तथा बाड़मेर जिलों से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 7 अगस्त से ऑपरेशन अलर्ट शुरू होने के बाद सीमा सुरक्षा बल के महानिरीक्षकअनिल पालीवाल बीकानेर और श्रीगंगानगर सेक्टर का दौरा कर इसका जायजा ले चुके हैं। बार्डर पर ऑपरेशन अलर्ट शुरू होने के बाद सीमा सुरक्षा बल के उच्चाधिकारी भी लगातार सीमा चौकियों का दौरा करते हुए वहां तैनात कम्पनी कमांडरों को सीमा की सुरक्षा के बारे में आवश्यक निर्देश दे रहे हैं। सीमा चौकियों पर जवानों की संख्या दुगनी करने के साथ ही रात्रि नाकों की संख्या बढ़ा दी गई है। सुरक्षा की दृष्टि से जवानों को अत्याधुनिक हथियारों से सुसज्जित किया गया है। आतंकी घुसपैठ को विफल करने के लिए सीमा पर त्रिस्तरीय सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं। सीमा पार हलचल नहींऑपरेशन अलर्ट को लेकर इन दिनों खुफिया एजेंसियां भी सक्रिय हैं। केन्द्रीय खुफिया एजेंसी के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीमा पार कोई खास हलचल नहीं है। अलबत्ता पाकिस्तान की सीमा चौकियों पर रेंजर्स की गतिविधियां लगातार दिख रही है। पिछले दिनों पाक रेंजर्स के अपने इलाके में गोली चलाने पर बीएसएफ ने इस मुद्दे पर पाक रेंजर्स के साथ फ्लैग मीटिंग की थी, जिसमें उन्होंने खरगोश के शिकार के लिए गोली चलाना बताया था। पाक रेंजर्स के स्पष्टीकरण के बावजूद बीएसएफ के अधिकारी इसे सामान्य घटना नहीं मान रहे। जैश से है खतराआतंककारी संगठन जैश-ए-मुहम्मद का मुख्यालय पाकिस्तान के बहावलपुर में है जो श्रीगंगानगर और बीकानेर सेक्टर के सामने है। जैश का संस्थापक मसूद अजहर भी बहावलपुर का है। खुफिया एजेंसियांे का कहना है कि बहावलपुर के आसपास पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई वहां कई आतंकी ट्रेनिंग कैम्प चला रही है, जिससे वहां आतंकियों का जमावड़ा रहता है। जम्मू-कश्मीर और पंजाब सीमा पर सख्ती के चलते बहावलपुर के ट्रेनिंग कैम्पों में बैठे आतंकी राजस्थान से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ कर स्वाधीनता दिवस और जन्माष्टमी पर बड़ी वारदात करने की फिराक में है। ऑपरेशन अलर्ट इसी के दृष्टिगत शुरू किया गया है।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved