Tuesday , Aug 22 2017

लोकप्रिय ख़बरें

जन के ‘प्रतिनिधियों’ ने बंद कमरे में अधिकारियों को पांच घंटे पढ़ाया विकास का पाठ

Rajasthan Patrika
13, Aug 2017, 04:30

पाली . जिले के विकास पर निगरानी रखने वाली समिति की बैठक जनप्रतिनिधियों और बड़े अधिकारियों ने ली। जनता से जुडे़ मुद्दों पर बंद कमरे में साढ़े पांच घंटे तक मंथन हुआ। अधिकारियों को लगाई फटकार सार्वजनिक न हो, शायद इसी मंशा से केंद्रीय मंत्री पी.पी. चौधरी ने रविवार को जिला परिषद सभागार में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति दिशा की बैठक ली। उन्होंने बैठक की शुरुआत जिले में पिछले दिनों अतिवृष्टि से हुए नुकसान की समस्या को छोडक़र विभिन्न योजनाओं से समीक्षा शुरू की। सबसे पहले उन्होंने वाईफाई हॉट स्पॉट की त्वरित कार्रवाई के लिए बीएसएनएल को निर्देश दिए। इसके बाद बांगड़ मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के अधीक्षक डॉ. एमएस राजपुरोहित को टेलिमेडिसिन व ऑनलाइन रिपोर्ट प्रस्तुत करने की हिदायत दी। उन्होंने बताया कि दिशा को अब ई-समीक्षा में रखा जाएगा। साथ ही संबंधित अधिकारियों द्वारा साप्ताहिक अपलोड करने की व्यवस्था के नवाचार की बात बताई। बैठक में उप मुख्य सचेतक मदन राठौड़, विधायक केसाराम चौधरी, जिला प्रमुख पेमाराम सीरवी, जिला कलक्टर सुधीर कुमार शर्मा, यूआईटी चेयरमैन संजय ओझा, पाली प्रधान श्रवण बंजारा, एडीएम भागीरथ विश्नोई, यूआईटी सचिव बजरंगसिंह, सीईओ जिला परिषद उदयभानु चारण मौजूद थे। सडक़ों के निर्माण पर हुई चर्चा बैठक में जिले में बन रहे ग्रामीण गौरव पथ निर्माण पर चर्चा की गई। इसके बाद मंत्री चौधरी ने जिले में अतिवृष्टि से सडक़ों पर हुए गड्ढे व टूट फूट को तुंरत ठीक करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने गुंदोज, दयालपुरा सहित अन्य स्थानों के टूटे पूल के बारे में जानकारी ली। साथ ही एनएच के अधीक्षण अभियंता को सडक़ों के पुर्ननिर्माण व जल निकासी की उचित व्यवस्था के निर्देश दिए। इसके साथ ही बाढ़ के हालात में बेहतर कार्य करने वाले अधिकारी, जनप्रतिनिधियों की सराहना की। यह दिए निर्देश प्रधानमंत्री आवास योजना व स्वच्छ भारत कार्यक्रम - जिले में स्वच्छ भारत मिशन के तहत संचालित कार्यों की समीक्षा करते हुए शौचालय निर्माण में लम्बित भुगताने के निर्देश दिए।ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम - बैठक में विभिन्न गांवों में पेयजल वितरण व्यवस्था सुदृढ़ करने के निर्देश दिए। साथ ही समस्या ग्रस्त गांवों में पेयजल वितरण व्यवस्था जल्द शुरू करने की हिदायत दी। डिस्कॉम - बैठक में दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के प्रथम व द्वितीय चरणों के कार्यों की समीक्षा ली। साथ ही उज्जवला योजना में विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों के विद्युत कनेक्शन की समीक्षा की। फसल बीमा योजना - बैठक में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत विभिन्न ग्रामीणों के क्लेम रिलीज करने पर समीक्षा ली। साथ ही अधिकारियों से मांगी सूचनाओं को समय पर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों ने सौंपा ज्ञापन बैठक से पहले निम्बली उर्रा गांव के ग्रामीणों ने उपमुख्य सचेतक मदन राठौड़ को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने ज्ञापन में गांव के श्मशान भूमि के चार दीवारी करवाने व टीनशेड लगवाने की मांग की। साथ ही ग्रामीणों ने क्षेत्र में अतिवृष्टि के कारण किसानों की नष्ट हुई फसलों के लिए सरकारी अनुदान दिलवाने की मांग की। इस मौके पर श्रवणलाल मेघवाल सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved