Thursday , Aug 17 2017

लोकप्रिय ख़बरें

जीएसटी बैठक : फोस्टा की जमकर खिंचाई,सूरत नहीं अब दिल्ली में प्रदर्शन

Rajasthan Patrika
13, Aug 2017, 06:01

सूरत. जीएसटी के विरोध में मैदान में उतरे सूरत के कपड़ा व्यापारी अब सूरत के बजाय दिल्ली में प्रदर्शन कर सरकार तक आवाज पहुंचाने की रणनीति बना रहे हैं। इस आशय का प्रस्ताव शनिवार शाम फैडरेशन ऑफ सूरत टैक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन की बैठक में रखा गया। हालांकि बैठक के दौरान फोस्टा की मौजूद व्यापारियों ने जमकर खिंचाई भी की। जीएसटी के विरोध में एक जुलाई से लगातार 17 दिन तक कपड़ा बाजार में चले आंदोलन को केंद्र सरकार के मंत्रियों के आश्वासन पर समेटने के बाद भी जीएसटी काउंसिल की बैठक में कपड़ा उद्योग को कोई रियायत नहीं मिली। इस पर अब व्यापारी विरोध की दिशा में फिर से सक्रिय होने लगे हैं। इस सिलसिले में फोस्टा ने शाम को रिंगरोड पर होटल टैक्सप्लाजा में कपड़ा बाजार में मार्केट एसोसिएशन के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई। बैठक में ऑल इंडिया एसोसिएशन से बात कर जीएसटी के विरोध में एक दिवसीय टोकन स्ट्राइक के प्रस्ताव को रखा गया। इसके अलावा केंद्रीय वित्त मंत्री व मनसुख मांडविया से मिलकर उन्हें आश्वासन याद दिलाने, प्रधानमंत्री व वित्तमंत्री को ट्विट कर समस्या बताने के अलावा दिल्ली में जंतर-मंतर पर धरने व अनशन की बात बैठक में की गई। इतना ही नहीं कपड़ा बाजार में सप्ताह के तीन दिन खरीदारी रोककर सरकार तक जीएसटी के विरोध की बात पहुंचाने की चर्चा भी की गई। भरोसे पर जताई आशंकाबैठक में फोस्टा पर ही भरोसा बरकरार रखे जाने पर मौजूद कई व्यापारियों ने आशंका जताई। आशंका जताने वाले व्यापारियों ने बताया कि एक नहीं अनेक कारण ऐसे हैं जिससे जीएसटी के विरोध में नए किसी भी घटनाक्रम पर फोस्टा पर सीधा विश्वास नहीं किया जा सकता। फोस्टा की खिंचाई करने वालों में पूर्व अध्यक्ष सरदार अतरसिंह, हितेश संकलेचा, धनपत जैन, गोपाल पारीक, ललित शर्मा, रामरतन बोहरा, गजेंद्रसिंह समेत अन्य व्यापारी शामिल थे। यूं लगाए आरोपफोस्टा पर लगाए गए आरोपों में बैठक में पांच दिन बिगाडऩे, बैठक का एजेंडा स्पष्ट नहीं, जीएसटी नम्बर लेने के बाद कपड़ा व्यापारी व्यापार करें या विरोध, इतना होने के बाद भी केंद्रीय मंत्रियों के समक्ष रजुआत की बात, 23 दिन तक सूरत के कपड़ा बाजार में आंदोलन चलने के बाद भी टोकन स्ट्राइक से विरोध जताने के अलावा अन्य कई पुरानी बातें भी की गई जो पिछले आंदोलन के दौरान घटित हुई। करीब दो घंटे तक चली बैठक में कोई ठोस निर्णय नहीं हो सका और अब ऑल इंडिया एसोसिएशन फैसला लेगी। आमसभा व रैली की मांगी अनुमतिउधर, जीएसटी के विरोध में 18 दिन तक अनशन कर चुके गुडलक मार्केट के युवा कपड़ा व्यापारी हितेश संकलेचा ने शहर पुलिस आयुक्त से कपड़ा बाजार में आमसभा व रैली की अनुमति मांगी है। मंजूरी मिलने पर जीएसटी के विरोध में यह प्रदर्शन आगामी 16 से 18 अगस्त तक कपड़ा बाजार में किए जाएंगे। वहीं, शाम को टैक्सप्लाजा में आयोजित बैठक में फोस्टा के मनोज अग्रवाल, चम्पालाल बोथरा, राजेश अग्रवाल, गोकुल बजाज, अनिल राठी, पुरुषोत्तम अग्रवाल के अलावा ताराचंद कासट समेत कई व्यापारी मौजूद थे।

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved