Friday , Jun 23 2017

लोकप्रिय ख़बरें

कभी बेहद खूबसूरत था बाजीराव का शनिवारवाड़ा, आज बन चुका है हांटेड

Dainik Bhaskar
19, Jun 2017, 11:30

दिसंबर 2015  में बाजीराव-मस्तानी फिल्म रिलीज हुई थी, जिसे को दर्शकों ने खूब सराहा। फिल्म की वजह से आज लगभग हर कोई बाजीराव के बारे में जानता है लेकिन बाजीराव की मृत्यु के बाद उनके महल शनिवारवाड़ा में क्या हुआ, यह बहुत ही कम लोग जानते हैं..   मराठा साम्राज्य को बुलंद‌ियों पर ले जाने वाले बाजीराव ने 1746 ई. में एक महल का न‌िर्माण करवाया जो शन‌िवार वाड़ा के नाम से जाना जाता है। यह महल पुणे में आज भी मौजूद है। 1818 तक यह पेशावाओं के अध‌िकार में रहा। 1828 ई. में इस महल में आग लगी और महल का बड़ा ह‌िस्सा आग की चपेट में आ गया। यह आग कैसे लगी यह अपने आप में अब तक एक सवाल बना हुआ है। लेक‌िन बात यहीं तक नहीं रुकती है। स्‍थानीय लोग कहते हैं क‌ि इस महल से अब भी अमावस की रात एक दर्द भरी आवाज आती है जो बचाओ-बचाओ पुकारती है। यह आवाज उस सख्स क‌ि है ज‌िसकी हत्या इस महल में का दी गई थी। कहते हैं हत्या के बाद उसके शव को नदी में बहा द‌िया गया था।   18 साल की उम्र में कर दी गई थी नारायण राव की हत्या   ऐसी मान्यता है क‌ि बाजीराव के बाद इस महल में राजनीत‌िक उथल-पुथल का दौर...

चर्चित खबरें

सुझाया गया

loading...

रेकमेंडेड आर्टिकल्स

ट्रेंडिंग वीडियो

loading...
© Copyright © 2017 Newsfiller All rights reserved